ei1WQ9V34771.jpg
  • Sweet City Muzaffarpur

गरीब बिहार के भ्रष्ट धनकुबेर अधिकारी,रेड में इंजीनियर के खाते में मिले 7 लाख कैश 98 लाख और 21 प्लॉटो



गरीब बिहार के भ्रष्ट धनकुबेर अधिकारी,रेड में इंजीनियर के खाते में मिले 7 लाख कैश 98 लाख और 21 प्लॉटों के पेपर


आय से अधिक संपत्ति मामले में शुक्रवार को निगरानी अन्वेषण ब्यूरो ने बड़ी कार्रवाई की है। भवन निर्माण विभाग के पाटलिपुत्र डिवीजन के कार्यपालक अभियंता मदन कुमार के दो ठिकानों पर छापेमारी के दौरान करोड़ों की चल-अचल संपत्ति का खुलासा हुआ। 24 साल की नौकरी में ही कार्यपालक अभियंता ने एक-दो नहीं, बल्कि 21 प्लॉट खरीद लिए। पटना के गोला रोड स्थित वृंदावन कॉलोनी के आवास व पाटलिपुत्र डिवीजन के दफ्तर की तलाशी के दौरान लगभग 13.75 लाख नगद के अलावा सोने-चांदी के जेवरात व निवेश से संबंधित कागजात भी मिले हैं। 20 बैंक खातों में करीब 98 लाख रुपए भी जमा हैं।बचत 1.30 करोड़, जबकि संपत्ति मिली 3.56 करोड़ की

निगरानी अन्वेषण ब्यूरो के मुताबिक कार्यपालक अभियंता मदन कुमार के पास आय से करोड़ों रुपए ज्यादा की संपत्ति पाई गई है। उनके खिलाफ 2,26,44000 रुपए आय से अधिक संपत्ति पाए जाने के बाद 6 अक्टूबर को प्राथमिकी दर्ज की गई। अदालत से तलाशी वारंट लेने के बाद पटना के गोला रोड के वृंदावन कॉलोनी स्थित दो मंजिला मकान और भवन निर्माण विभाग के पाटलिपुत्र डिवीजन स्थित दफ्तर की तलाशी ली गई। घर से जहां 7 लाख के करीब नगद, सोने-चांदी के आभूषण और निवेश से संबंधित कागजात भी मिले हैं जबकि दफ्तर से 6.75 लाख कैश मिला है। जेवरात में आधा किलो चांदी और 314 ग्राम सोना शामिल है।


अधिकारियों के मुताबिक वेतन से मदन कुमार की आय 1.20 करोड़ रुपए है, वहीं अन्य श्रोतों से उनकी पत्नी की आमदनी 40 लाख के करीब है। 14 लाख का उन्होंने लोन ले रखा है। इस तरह से पति-पत्नी की आमदनी 1.74 करोड़ रुपए होती है। एक-तिहाई खर्च हटाने के बाद दोनों का कुल बचत 1.30 करोड़ होती है पर इनके पास 3 करोड़ 56 लाख 44 हजार की संपत्ति पाई गई है। यह आय के ज्ञात श्रोतों से 2 करोड़ 26 लाख 44 हजार रुपए अधिक है।

0 comments