top of page
ei1WQ9V34771.jpg
  • Ali Haider

दिवाली पर मिलावटी मिठाइयों की भरमार प्रशासन हुआ शख्त मुजफ्फरपुर जिले में जांच टीम डालेगी छापा


दिवाली पर मिलावटी मिठाइयों की भरमार,प्रशासन हुआ शख्त मुजफ्फरपुर जिले में जांच टीम डालेगी छापा


मुजफ्फरपुर दिवाली के मौके पर बाजारों में मिठाई की मांग तेज हो जाती है. ऐसे में मिठाई का धंधा करने वाले लोग अधिक मुनाफे के लिए मिलावट करना शुरू कर देते हैं. मिलावट के धंधे को रोकने के लिए फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट पटना में कई जगह छापेमारी कर रहा है. पटना में अब डिब्बा पैक सामान के साथ-साथ खुले सामान के लिए भी एक्सपायरी डेट अनिवार्य कर दी गई है.

दिवाली के मौके पर मिठाइयों कि बड़े स्तर पर मांग होती है क्योंकि मिठाई खिलाकर त्योहारों को मनाने की परम्परा भारत में पुरानी हैं. त्योहारों बढ़ती मांग के चलते बाजार में शुद्ध मिठाई मिलना बेहद मुश्किल हो जाता है. लोगों की सेहत हो रहे खिलवाड़ को रोकने के लिए फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट एक्टिव हो गया है. मुजफ्फरपुर में इस दिवाली पर जगह-जगह छापेमारी भी चालू हो गई.मुजफ्फरपुर शहर से लेकर गांव तक में कई जगह मिठाई में मिलावट के मामले सामने आ रहे हैं.


फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट के अधिकारी इस बात कि जांच करने के लिए मुजफ्फरपुर की दुकानों पर निकले तो पता चला कि छेना के टुकड़ों का इस्तेमाल आयोडीन सॉल्युशन में किया जा रहा है जिसके इस्तेमाल से मिठाई तैयार करी जारी हैं फूड सेफ्टी इंस्पेक्टर से मिली जानकारी के अनुसार पता चला है कि कई मिठाई बनाने वाले परत के रूप में सिल्वर कि मिलावटी परत का उपयोग कर रहें हैं और गलत तरीके के रंगों ,छेने में आरारोट मैदा मिलाने कि बात भी सामने आई हैं जिस से लोगों की सेहत को भारी नुकसान पहुंच सकता हैं।

मुजफ्फरपुर और पटना में लोगों की सेहत को ध्यान में रखकर फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट ने सड़कों पर मोबाइल टेस्टिंग लैब उतारा जहाँ जांच के सारे संसाधन उपलब्ध होने साथ दो सीनियर रिसर्चर को भी रखा गया है . इस तरह की जांच करने वाली पूरे बिहार में 5 वैन उपलब्ध हैं .जो अलग अलग जिलों में जाकर टेस्टिंग करेगी फूड इंस्पेक्टर अजय कुमार ने बताया कि अब बंद सामान के साथ खुले सामान पर भी एक्सपायरी डेट लिखा होना अनिवार्य हैं.यह नियम अक्टूबर से अमल में आ चुका हैं एक्सपायरी डेट अब मिठाई की ट्रे में भी लिखना हुआ अनिवार्य ,ऐसा फैसला इसलिए लिया गया फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट कि तरफ से क्योंकि मुजफ्फरपुर में पनीर में भी मिलावट कि बात भी सामने आई थी।ऐसे में लोगों को बीमारियों से बचाने के लिए ऐसा करना आवश्यक माना गया।


0 comments

Kommentare


bottom of page