top of page
ei1WQ9V34771.jpg
  • Ali Haider

मुजफ्फरपुर में छात्राओं की तस्वीर एडिट कर अश्लील बनाकर ब्लैकमेल करने वाला गिरोह सक्रिय पुलिस विफल


मुजफ्फरपुर में एक शिक्षक की पुत्री की आपत्तिजनक तस्वीर बनाकर परिवार को ब्लैकमेल किया जा रहा है। उसके पिता के मोबाइल पर व्हाट्सएप से तस्वीर भेजकर ब्लैकमेलर धमकी दे रहा है। उसने दो लाख रुपए नहीं मिलने पर तस्वीर वायरल करने की धमकी दी है। मामला अहियापुर थाना इलाके की है। इस संबंध में शिक्षक ने अहियापुर थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। घटना से छात्रा सदमे हैं। उसने डर से घर से स्कूल जाना छोड़ दिया है। नगर डीएसपी रामनरेश पासवान ने बातया कि शिक्षक के मोबाइल पर जिस नंबर से मैसेज और तस्वीर भेजी गई है, उसका लोकेशन व कॉल डिटेल खंगाली जा रही है।

एडिट करके बनाई गई आपत्तिजनक तस्वीर

शिक्षक का परिवार अहियापुर थाना के एक मोहल्ले में रहता है। शिक्षक ने पुलिस को बताया कि 18 नवंबर की शाम 6.22 बजे उनके मोबाइल पर बेटी की आपत्तिजनक तस्वीर भेजी गई थी। इसके बाद रुपये की डिमांड की गई। ब्लैकमेलर ने कॉल करके कहा कि अपना व्हाट्सएप देखो। व्हाट्सएप पर तस्वीर देखकर पांव तले जमीन खिसक गई। बेटी की आपत्तिजनक तस्वीर एडिट करके बनाई गई थी। इसके बाद ब्लैकमेलर ने कहा कि दो दिन के अंदर दो लाख रुपए का इंतजाम करके दो। नहीं तो इस तस्वीर को वायरल कर देगा।

जब शिक्षक ने उसे बताया कि तस्वीर तो एडिट की हुई है। इसपर ब्लैकमेलर ने धमकी दी कि जब वायरल कर देंगे, तब इसके एडिट किए जाने की बात साबित करने तक उनकी इज्जत नीलाम हो चुकी होगी। इस धमकी के बाद वह सहम गए। उन्होंने अपने स्तर से पहले ब्लैमेलर को समझाने व उस तक पहुंचने की कोशिश की, लेकिन ब्लैकमेलर ने बात नहीं मानी। दो दिन पहले शिक्षक ने अहियापुर थाने में एफआईआर दर्ज कराई। अब पुलिस तस्वीर वायरल करने की धमकी देने में इस्तेमाल किए गए मोबाइल नंबर की टॉवर लोकेशन निकालने की कोशिश में जुटी है। छानबीन के लिए प्रशिक्षु दारोगा विनीता कुमारी को आईओ बनाया गया है।

स्कूल जाना छोड़ा

पीड़ित नाबालिग स्कूल छात्रा काफी सदमे में है। इस घटना के बाद से उसने घर से निकलना छोड़ दिया है। वह स्कूल भी नही जा रही है जिससे उसकी पढ़ाई बाधित हो रही है। छात्रा के पिता ने बताया कि वह घर में दिन रात रोती रहती है।

0 comments

Comments


bottom of page