ei1WQ9V34771.jpg

मुजफ्फरपुर में दिनदहाड़े गोली मारकर व्यवसाई की हत्या घर से फोन कर बुलाया और मार दी गोली


मुजफ्फरपुर के मीनापुर थाना क्षेत्र के पानापुर ओपी के बिशुनपुर में दिनदहाड़े गोली मारकर व्यवसाई की हत्या कर दी। मृतक की पहचान उमेश गिरी (40) के रूप से हुई है। घटना को अंजाम देकर बाइक सवार तीन अपराधी हथियार लहराते हुए भाग निकले। आननफानन में स्थानीय लोगों ने उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया, जहां कुछ ही देर में डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद इलाके में सनसनी मच गई। सूचना मिलने पर पानापुर ओपी प्रभारी हरेराम पासवान मौके पर पहुंचे। परिजन से पूछताछ की।

मृतक के पुत्र अमन कुमार ने ATM फ्रॉड गिरोह से जुड़े एक शातिर का नाम पुलिस को बताया है। कहा कि उसके पिता ने मरने से पहले कहा था कि रमेश ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर उनकी हत्या कर दी है। अन्य दो अपराधी को वे पहचान नहीं सके थे। आरोपी का नाम सामने आने के बाद पुलिस उसकी तलाश में जुट गई है। लेकिन, घटना के बाद वह फरार हो गया है। उसके परिजन पर दबिश बनाया जा रहा है।

घर से फोन कर बुलाया था

मृत उमेश गिरि के पुत्र ने बताया कि पापा घर पर ही थे। इसी दौरान उनके मोबाइल पर कॉल आया था। वे खाना खाने जा रहे थे। इसी दौरान कॉल करने वाले व्यक्ति ने कहा कि जल्दी आईए। कुछ ज़रूरी काम है। बिना खाना खाए वे चले गए। घर से कुछ दूर आगे बढ़े तभी पूर्व से घात लगाए तीन अपराधियों ने उन्हें घेरकर रोक लिया। काफी करीब से एक गोली छाती के पास मारी। वे घायल होकर सड़क पर गिर पड़े। गोली चलने की आवाज सुनकर आसपास के लोग जुटने लगे। यह देखकर तीनों अपराधी भाग गए।

एक सप्ताह पूर्व दी थी धमकी

बताया जा रहा है कि अमन उन आरोपी रमेश के साथ रहता था। ये बात उसके पिता को नागवार गुजरी। उन्होंने आरोपी से कहा कि तुम मेरे बेटा का संगत छोड़ दो। वह बिगड़ रहा है। इसपर आरोपी ने गुस्से में आकर उन्हें गोली मारने की धमकी दी थी। आज घर से बुलाकर हत्या कर दिया। पुलिस ये पता लगाने में जुटी है कि हत्या से पहले मृतक को किसने कॉल किया था। इसके लिए कॉल डिटेल्स खंगाला जा रहा है।

0 comments