ei1WQ9V34771.jpg

मुजफ्फरपुर सिकंदरपुर लेक के सौंदर्यीकरण का काम शुरू होने पर लोगों में हर्ष की लहर देखिये तस्वीरें


स्मार्ट सिटी के तहत सिकंदरपुर लेक के सौंदर्यीकरण की 178 करोड़ रुपये की योजना पर काम शुरू किया गया है। अभी लेक के किनारे की साफ-सफाई कराई जा रही है। लेक से जलकुंभी को निकाला जा रहा है। लेक के किनारे से होकर जाने वाली मेरिन ड्राइव रोड के किनारों की भी सफाई कराई जा रही है।

बुधवार को स्मार्ट सिटी के इंजीनियर और अधिकारियों ने नाव से झील का सर्वे किया। इस दौरान सफाई कर्मियों ने झील में काफी मेडिकल कचरा होने की जानकारी दी है। इस पर इंजीनियरों ने चिंता जताई।

स्मार्ट सिटी की डीपीआर के अनुसार लेक के सौंदर्यीकरण योजना में बड़े पैमाने पर काम होना है। इसके चारों ओर फूलों की क्यारियों के साथ टहलने के लिए पाथ बनेगा। पार्क के बीच बैठने के लिए जगह-जगह सिटिंग स्टैंड बनेंगे। म्यूजिकल फाउंटेन के साथ फ्लोटिंग रेस्टोरेंट होगा। जहां शहरवासी मस्तानी शाम गुजार सकेंगे। बच्चों के लिए नौका विहार बनेगाबोट से लेक का सैर किया जा सकता है। लेक के चारों ओर रोड बनाया जाएगा। मेरिन ड्राइव रोड का भी विकास होना है। इसे डबल लेन का बनाया जाना है। सिकंदरपुर लेक जूरन छपरा के सामने और ब्रह्मपुरा लेक को एक साथ जोड़ा जाएगा। पुल के नीचे से बोट से गुजरकर लेक के सभी भाग में पहुंचा जा सकेगा। नाव से पहुंचे अधिकारियों ने लेक की गहराई और इसमें पानी के स्रोत को जीवित रखने के बिंदू पर भी सर्वे किया।

सफाई के बाद मापी कर चिह्नित की जाएगी लेक की जमीन : किनारों की साफ-सफाई के बाद नगर निगम के अमीन लेक की जमीन की पैमाइश का काम शुरू करेंगे। 148 एकड़ लेक की जमीन में अभी कितने भाग में पानी है और सूखे स्थलों पर कितने भाग में अतिक्रमण हो गया है। इसे चिह्नित किया जाएगा। लेक की जमीन से अतिक्रमण खाली कराने के लिए जिला प्रशासन से भी सहयोग लिया जाएगा। इसके लिए बड़े स्तर पर कार्रवाई की प्रशासनिक तैयारी की जा रही है।

0 comments