ei1WQ9V34771.jpg
  • Sweet City Muzaffarpur

मुजफ्फरपुर अहियापुर थानेदार को कोर्ट में हाजिर होने का आदेश से महकमे में मचा हडकंप


मुजफ्फरपुर के थानों में टालमटोल से त्रस्त पब्लिक को कोर्ट से बदलाव की आस जगी है 10 माह बाद भी हादसे में मौत के मामले में एफआईआर दर्ज नहीं करने पर प्रभारी सीजेएम कोर्ट ने अहियापुर थानेदार से स्पष्टीकरण मांगते हुए उन्हें अदालत में सदेह हाजिर होने का आदेश दिया है। थानेदार के हाजिरी के लिए 23 नवंबर की तिथि निर्धारित की गई है। मामले को लेकर मीनापुर के खरार निवासी पूनम देवी ने सीजेएम कोर्ट में अज्ञात कार चालक पर परिवाद दर्ज करायी थी। उन्होंने कहा कि 23 सितंबर 2020 को उसके पति सुबोध कुमार पुत्र आनंद कुमार को अहियापुर स्थित स्कूल पहुंचाने जा रहे थे। इस दौरान भिखनपुर में कार ने दोनों को ठोकर मार दी। दोनों जख्मी हो गए। एक अक्टूबर 2020 को इलाज के दौरान पटना में पति की मौत हो गई। मामले में सुनवाई करते हुए कोर्ट ने 12 दिसंबर 2020 को अहियापुर थानेदार को एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया। लेकिन, आदेश के 10 माह बाद भी थानेदार की ओर से एफआईआर दर्ज नहीं की जा सकी।

0 comments