ei1WQ9V34771.jpg
  • Sweet City Muzaffarpur

मुजफ्फरपुर में एक करोड़ की शराब जब्त ट्रक में तहखाना बनाकर छुपाया था शराब तस्कर फरार


मुजफ्फरपुर में एक करोड़ की शराब जब्त ट्रक में तहखाना बनाकर छुपाया था शराब तस्कर फरार


मुजफ्फरपुर में शराब धंधेबाज़ों द्वारा शराब लाने का सिलसिला नहीं थम रहा है। हर दिन जिले में उत्पाद और पुलिस द्वारा कार्रवाई की जा रही है। बावजूद इसके शराब की खेप के आने का सिलसिला जारी है। ताज़ा मामला सरैया थाना क्षेत्र के चक इब्राहिम का है। जहां गुप्त सूचना के आधार पर उत्पाद विभाग की टीम ने कार्रवाई करते हुए करीब एक करोड़ रुपये से अधिक की शराब जब्त की। धंधेबाजों ने ट्रक पर तहखाना बनाकर इसमें शराब की पेटियों को छुपाकर रखा था। पंजाब नम्बर ट्रक पर खाली कार्टन पीछे लोड किया गया था। इसके अंदर में एक तहखाना बनाया गया था। जिसका रास्ता चालक के केबिन से होकर जाता था।


इसमें शराब की 387 कार्टन को छुपाया गया था। उत्पाद निरीक्षक कुमार अभिनव ने बताया कि गुप्त सूचना मिलने पर उक्त कार्रवाई की गई है। हालांकि, छापेमारी की भनक लगते ही धंधेबाज़ फरार हो गए थे। उन सभी की पहचान कर गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी की जा रही है।


चुनाव को प्रभावित करने की योजना


उत्पाद विभाग की छानबीन में पता लगा की पंचायत चुनाव को प्रभावित करने के लिए सरैया और इसके आसपास के धंधेबाज़ों ने उक्त शराब की खेप मंगवाई थी। बता दें कि सरैया में चुनाव और मतगणना सम्पन्न हो चुका है। लेकिन, इसके आसपास अभी चुनाव होना बाकी है। उत्पाद निरीक्षक ने बताया कि शराब की कार्टन पर ये नहीं लिखा है कि यह कहां की निर्मित है।


इसका पता लगाने में जुटे हैं, जबकि पूर्व में पकड़ी गई सभी शराब की पेटियों में निर्मित स्थल अंकित होता है। लेकिन, इसपर नहीं है। इसका डिटेल्स खंगाला जा रहा है। प्रारम्भिक जांच में पंजाब-हरियाणा निर्मित शराब होने की बात पता लगी है।


अनलोड करने की थी तैयारी


सरैया में शराब को अनलोड किया जाना था। चक इब्राहिम में सुनसान इलाके में ट्रक खड़ा कर चालक शराब धंधेबाज़ के आने का इंतज़ार कर रहा था। इसी दौरान उत्पाद विभाग की टीम ने छापेमारी कर दी। हालांकि, वह अंधेरे का लाभ उठाकर भाग निकला। ट्रक और शराब को जब्त कर अभियोग दर्ज करने की कवायद की जा रही है।

0 comments