ei1WQ9V34771.jpg
  • Sweet City Muzaffarpur

मुजफ्फरपुर सदर अस्पताल परिसर में आफत के जलजमाव से बढ़ा बीमारी का खतरा, मरीजों की जान..



मुजफ्फरपुर सदर अस्पताल परिसर में आफत के जलजमाव से बढ़ा बीमारी का खतरा, मरीजों की जान फंसी सांसत में


मुजफ्फरपुर : सदर अस्पताल में उपचार कराने आने वाले मरीज परेशान है। तीन दिन से इमरजेंसी से लेकर जनरल वार्ड व पीआइसीयू में जाने वाले रास्ते में इतना पानी है कि वहां पर पहुंचना चुनौती पूर्ण हो गया है। गंदगी के कारण दूसरी बीमारी का खतरा बना हुआ है। पोषण पुनर्वास केंद्र व पुरुष ओपीडी में भर्ती मरीज और बच्चेों का इलाज 72 घटे से पानी में हो रहा है। बारिश का पानी पूरे अस्पताल परिसर में जमा हुआ है। जलजमाव के बीच शौचालय की खुली टंकी रहने के कारण परिसर में शौच बह रहा है। सिविल सर्जन डा.विनय कुमार शर्मा ने बताया कि सदर अस्पताल के प्रबंधक को टंकी बनवाने के लिए एक माह पहले कहा गया था, लेकिन स्थिति वहीं है। पुरुष वार्ड में भर्ती मरीज के तीमारदार रमेश कुमार ने बताया कि जलजमाव की हालत यह है कि वार्ड के बगल से जब कोई वाहन गुजरता है तो अंदर पानी आ जा रहा है। मच्छर और बदबू से रहना मुश्किल हो रहा है। पोषण पुनर्वास केंद्र में अपने बच्चे का इलाज करा रही महिलाओं का कहना है कि इलाज तो हो रहा है, लेकिन जलजमाव के कारण परेशानी है। अभी यहां पर नौ बच्चों का इलाज चल रहा है। वार्ड में शनिवार को पानी प्रवेश कर गया था। रविवार को वहां से पानी निकला, लेकिन सामने व अगल-बगल में जलजमाव से मरीज परेशान हैं।

0 comments