ei1WQ9V34771.jpg
  • Sweet City Muzaffarpur

मुंबई की शापूरजी पालोनजी कं. द्वारा मुजफ्फरपुर इंटेलिजेंस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम को 27 जंक्शन...


मुंबई की शापूरजी पालोनजी कं. द्वारा मुजफ्फरपुर इंटेलिजेंस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम को 27 जंक्शन प्वाइंट्स चयनित


मुजफ्फरपुर : स्मार्ट सिटी मिशन के तहत शहर में इंटेलिजेंस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम स्थापित करने के लिए 27 ट्रैफिक जंक्शन का चयन किया गया है। स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत बनने वाले एकीकृत कमांड एंड कंट्रोल सेंटर के मास्टर सिस्टम इंटीग्रेटर के निर्माण एवं संचालन के लिए शापूरजी पल्लोंजी एंड कंपनी प्राइवेट लिमिटेड के साथ जिलाधिकारी प्रणव कुमार, मुजफ्फरपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के प्रबंध निदेशक विवेक रंजन मैत्रेय और सीईओ भूदेब चक्रवर्ती के बीच बैठक हुई। यह बैठक शापूरजी पालोनजी द्वारा मुजफ्फरपुर के स्थानीय लोगों के साथ एक सप्ताह तक चले सर्वे पर आधारित थी। इस परियोजना के अंतर्गत 27 ट्रैफिक जंक्शन का चयन किया गया है।सभी जंक्शनों के अक्षांश व देशांतर के साथ लोकेशन सर्वे हुआ है। इसमें सुरक्षा व्यवस्था , ट्रैफिक इंटेलिजेंस, अपशिष्ट प्रबंध, जंक्शन, दो जंक्शनों के बीच की दूरी व स्थानीय लोगों की सुविधा के लिए सुव्यवस्थाओं पर विचार किया गया। बैठक के दौरान जिलाधिकारी चयनित 27 जंक्शनों के अलावा शहर की सीमा से सटे क्षेत्रों को भी सर्विलेंस दायरे में लाने की बात कहीं।


इंटेलिजेंस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम को चयनित जंक्शन प्वाइंट : सरैयागंज टावर चौक, कंपनी बाग पोस्ट आफिस चौक, अखाड़ाघाट रोड, बैरिया गोलंबर, एमआइटी लक्ष्मी चौक, ब्रह्मपुरा थाना चौक, जूरन छपरा रोड नंबर तीन, इमलीचट्टी चौक, माड़ीपुर चौक, आरडीएस कालेज चौक, छाता चौक, हाथी चौक, गोबरसही एनएच 22 स्टेशन रोड, बनारस बैंक चौक, हरिसभा चौक, मिठनपुरा पानी टंकी चौक, मिठनपुरा चौक, दामोदरपुर चांदनी चौक, पक्की सराय चौक, कल्याणी चौक, रामदयालु एनएच 28, छाता बाजार चौक, कलमबाग चौक, भगवानपुर चौक, अघोरिया बाजार चौक, चतुर्भुज स्थान चौक, जीरोमाइल चौक व जूरन छपरा डीएम आवास चौक।

मुजफ्फरपुर स्मार्ट सिटी इंटेलिजेंस ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के तहत लगने वाले ट्रैफिक लाइट सिग्नल के साथ 4-4 अत्याधुनिक क्लाेज सर्किट कैमरे लगेंगे।

कैमरों के सर्वर में चिह्नित अपराधियों की तस्वीर फीड रहेगी। ऐसे कैमरों की जद में आते ही अपराधियों काे पहचान कर कैमरा सेंसर के जरिए संकेत दे देगा। संबंधित अपराधियों के लोकेशन के साथ ही उसके बारे में फीड की गई जानकारियां मॉनिटर स्क्रीन पर दिखेगी। उसके वाहन का नंबर प्लेट काे भी कैमरे स्कैन कर लेंगे।

निर्माण एजेंसी विभिन्न स्थानों पर वीडियो मैसेजिंग डिस्प्ले भी लगाएगी। किसी भी आपात स्थिति में पूरे शहर को सूचना देने के लिए पब्लिक अलर्ट सिस्टम भी लगेगा। भूकंप की आशंका, भारी बारिश की चेतावनी समेत किसी स्थान पर भीषण ट्रैफिक जाम होने की सूचना भी इस माध्यम से दी जा सकेगी।शापूरजी पालोनजी कं. द्वारा उक्त कार्य अगले आठ महीने में पूरा कर दिया जाएगा।

1 comment