ei1WQ9V34771.jpg

मंत्री राम सूरत राय के निर्णय को CM नीतीश कुमार ने पलटा, CO के तबादलों पर लगाई रोक



मुजफ्फरपुर राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग में तबादले पर शुक्रवार को रोक लग दी गई है. सीओ स्तर के सभी तबादलों पर रोक लगा दी गई है. रोक लगाने का आदेश बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने दिया है. तबादले में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की शिकायत मिली थी. बीजेपी कोटे से मंत्री राम सूरत राय (Ram Surat Rai) के पास यह विभाग है. उन्होंने यह फैसला लिया था जिसको को सीएम ने पलट दिया है. 30 जून को राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग की



ओर से अंचल अधिकारी, बंदोबस्त पदाधिकारी, चकबंदी पदाधिकारी समेत प्रभारी पदाधिकारियों का बड़े स्तर पर तबादला किया गया था. इसमें गड़बड़ी की शिकायत मिलने के बाद इस पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने का आदेश दे दिया गया है.

बता दें कि 30 जून को राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के 110 से ज्यादा सीओ व अन्य अधिकारियों का स्थानांतरण किया गया था. इसमें कई तरह की गड़बड़ी की शिकायत मिलने के बाद उस आदेश को निरस्त कर दिया गया है. मुख्यमंत्री के स्तर तक यह मामला पहुंच गया था. पिछली सरकार में भी यह विभाग बीजेपी के



पास था. राम नारायण मंडल मंत्री थे. राम नारायण मंडल के समय में भी सीओ के ट्रांसफर आदेश को रद्द कर दिया गया था. तब भी तबादला में बड़े स्तर पर गड़बड़ी की शिकायत सीएम के पास पहुंची थी.



तबादलों को लेकर फिर बनी टकराव की स्थिति

वहीं, आज के फैसले के बाद जेडीयू और बीजेपी के बीच तबादलों को लेकर टकराव का एक नया कारण पैदा हो सकता है. गौरतलब है कि बिहार एनडीए के दोनों घटक दलों बीजेपी और जेडीयू के बीच पहले से ही सियासी खींचतान जारी है. ऐसे में बीजेपी कोटे के मंत्री के आदेश को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा रद्द किए जाने पर नया सियासी बखेड़ा खड़ा होने का अंदेशा है. इस पूरे मामले पर बीजेपी कोटे के मंत्री राम सूरत राय क्या रुख अख्तियार करेंगे यह भी देखने लायक होगा.

0 comments