ei1WQ9V34771.jpg

मुजफ्फरपुर शहर में CBI अधिकारी के घर भीषण डकैती पुलिस प्रशासन जिलेवासियों की सुरक्षा करने में फेल


मुजफ्फरपुर शहर के बीचोबीच पुलिस प्रशासन के नांक के नीचे जहां सारे आला अधिकारी रहते है ब्रहाम्पुरा में हुएं भीषण डकती पूरे जिले के लॉ एंड ऑर्डर सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल दी है मुजफ्फरपुर में सुरक्षित कुछ भी नहीं है कोई भी नहीं है

अपराध अपने चरम पर है थाने के आसपास भी क्रिमिनल बेखौफ होकर डकैती कर रहे है स्थिति का अंदाजा लगाया जा सकता है ।


मुजफ्फरपुर शहर के ब्रह्मपुरा थाना इलाके के रेलवे कॉलोनी के समीप CBI के उपसलाहकार से सेवानिवृत्त उमाशंकर सिंह के घर में भीषण डकैती की घटना को अंजाम दिया गया। घटना गुरुवार अहले सुबह की है। जहां 10 की संख्या में पहुंचे डकैतों ने करीब 17 लाख की संपत्ति लूट ली।


पहले डकैतों ने उन्हें व उनकी पुत्री को पिस्टल के बल पर कब्जे में ले लिया। इसके बाद गमछा, गंजी समेत अन्य कपड़ों से हाथ-पैर व मुंह बांधकर घटना को अंजाम दिया। इस दौरान करीब दो घंटे से अधिक तक घर में उत्पात मचाया।

चोरों ने महंगे सामान, गहने व कैश समेत अन्य सामानों को लूट लिया। इसके बाद करीब सुबह 4 बजे सभी डकैत फरार हो गए। मामले में पीड़ित उमाशंकर सिंह ने ब्रह्मपुरा थाने में एफआईआर दर्ज कराने के लिए आवेदन सौंपा है। इसमें उन्होंने बताया है कि वे ब्रह्मपुरा थाना के रेलवे कॉलोनी स्थित रेलवे हॉस्पिटल

के समीप रहते हैं। वे नेशनल इंश्योरेंस कंपनी के सहायक महाप्रंबधक के पद से रिटायर्ड हैं। 3 महीने पटना CBI में उप सलाहकार के तौर ओर काम भी किया है। इसके बाद वे अपनी पुत्री के साथ ब्रह्मपुरा आवास पर रहते हैं।

उन्होंने बताया कि वे लोग देर रात खाना खाकर सो गए थे। इसी बीच हथियार से लैस 10 अपराधी किचेन की खिड़की के पल्ला व ग्रिल उखाड़कर घर के भीतर प्रवेश कर गए। इसके बाद पिस्तौल के बल पर उन्हें व उनकी पुत्री को अपने कब्जे में ले लिया। फिर, गमछा-गंजी से हाथ पैर बांध दिया। इसके बाद करीब 2 घंटे तक घर मे उत्पात मचाया। बंधक बनाने के बाद सभी मिलकर घर के अलमीरा, बक्सा, पेटी व लॉकर तोड़ने लगे।

इस दौरान नकद 1.50 लाख रुपये, 7 सेट कान का, 40 ग्राम का झुमका, 30 ग्राम का रिंग 3 पीस, चांदी का रिंग 30 ग्राम, पांच सेट पायल 350 ग्राम, सोने का लॉकेट 30 ग्राम, चांदी का सिक्का 16 पीस, चांदी का 7 सेट ग्लास, 6 महंगी घड़ी, अंगूठी-पायल भी नोंच लिया।

इसके बाद दो घंटे तक घर मे अलमीरा व बक्सा समेत अन्य सामान तोड़ने में लगाया। फिर, सुबह करीब 4 बजे सभी निकल गया। जब किसी की आवाज नही

विज्ञापन के लिये 7261081660 पर संपर्क करें

मिली तो वे मुंह, दीवार व ग्रिल के सहारे हाथ-पैर खोले। इसके बाद पुत्री को भी खोला। तब जाकर मामले की सूचना ब्रह्मपुरा थाने को दिया। इधर, मामले में ब्रह्मपुरा पुलिस का कहना है कि घटना की छानबीन की जा रही है।

तीन अपराधी दोनों की निगरानी करते रहे। बाकी अपराधियों ने सभी कमरों की अलमारी और बक्सों को तोड़कर कीमती सामान व गहने लूट लिए। चार बजे भोर में घर के बगल में मिट्टी भराई के काम के लिए ट्रैक्टर के आने की आवाज सुनकर अपराधी फरार हो गए। किसी तरह पिता-पुत्री ने एक-दूसरे के हाथ-पैर खोले। अन्नू ने बताया कि 30 से 35 साल के अपराधियों ने जींस पैंट और टी-शर्ट पहनी थी। गोल चेहरा और घुंघराले बाल वाला हट्टा-कट्ठा युवक लीड कर रहा था। उसक पेट हल्का निकला था। वह बार-बार कह रहा था कि घर में 11 करोड़ रुपये होने की जानकारी दी गई है। वह मोबाइल पर भी किसी से बात कर रहा था। रुपयों के लिए उमाशंकर सिंह के साथ मारपीट भी की गई।


0 comments