ei1WQ9V34771.jpg

रंगदारों से दुखी है मुजफ्फरपुर जिले के व्यापारी बेतहाशा बढ़ते मामलो मे कारवाई करने में पुलिस विफल


मुजफ्फरपुर, चार लाख रुपये की रंगदारी मांगे जाने व राशि नहीं देने पर हत्या की धमकी से मोतीझील के मोबाइल कारोबारी व उनके स्वजन दहशत में हैं। बता दें कि गुरुवार को नगर थाने में ब्रहमपुरा लक्ष्मी चौक के दिलीप कुमार ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी। इसमें बताया कि उनका मोतीझील अप्सरा मार्केट में मोबाइल की दुकान है।

बदमाशों द्वारा उनके मोबाइल नंबर पर चार विभिन्न नंबरों से काल कर चार लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई है। कारोबारी ने पुलिस को बताया कि तीन फरवरी से उन्हें धमकी मिल रही है। इस दौरान नौ बार उन्हें विभिन्न नंबरों से काल किया जा चुका है। कारोबारी ने पुलिस को उन सभी नंबरों के बारे में बताया है। पुलिस का कहना है कि मामला दर्ज कर सभी नंबरों का काल डिटेल्स निकाला जा रहा है। साथ ही कारोबारी की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है। काल डिटेल्स के आधार पर जल्द ही बदमाशों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी। इसके लिए विभिन्न जगहों पर छापेमारी की जा रही है।

बेतहाशा बढ़ते रंगदारी के मामले से व्यापारी वर्ग को जान माल की चिंता सता रही है।

मुजफ्फरपुर जिले में लग रहा है की जंगलराज की वापसी हो चुकी है।

अहियापुर, कांटी व शहर के कई कारोबारियों से मांगी जा चुकी रंगदारी

इसके पूर्व भी शहर के आभूषण मंडी के कारोबारी से रंगदारी मांगी गई थी। मामला दर्ज किया गया। हालांकि अबतक आरोपित की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। वहीं इसके पूर्व सूतापटटी के एक कारोबारी से रंगदारी मांगी गई थी। इस मामले में पुलिस द्वारा तीन आरोपितों को पकड़ा गया था।

इसके अलावा अहियापुर व कांटी के भी कई कारोबारियों व ठीकेदार से रंगदारी की मांग की जा चुकी है। पुलिस की तरफ से मामला दर्ज किया गया। हालांकि अब तक रंगदारी के लंबित मामलों मेें आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। इसके कारण ये सभी कारोबारी भी दहशत में हैं। एसएसपी जयंत कांत ने कहा कि सभी लंबित मामलों में कार्रवाई चल रही है। जल्द ही आरोपितों की गिरफ्तारी की जाएगी।

0 comments