ei1WQ9V34771.jpg

राजद के चुनौती शंभू सिंह ने दिनेश सिंह के अभेद किले मुजफ्फरपुर में सुनामी मचा रखी है


मुजफ्फरपुर राजद के मुजफ्फरपुर एमएलसी प्रत्याशी शंभू सिंह की एक आहट से ही मुजफ्फरपुर सीट हॉट स्पंट बना हुआ है जेडीयू में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बेहद करीबी माने जाने वाले और बिहार के हर दल में अपनी मजबूत पैठ रखने वाले वर्तमान एमएलसी दिनेश सिंह के माथे पर चिंता की गंभीर लकीरें साफ देखी जा सकती है दशको में जो नहीं हुआ वह सब कुछ पिछले डेढ़ महीने में मुजफ्फरपुर में देखा गया और सिर्फ बिहार ही नहीं देश विदेश के कई खास जगहों पर हनक महसूस किया जा रहा है राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और तेजस्वी यादव ने जो मास्टरस्ट्रोक मारा है उसकी गूंज बहुत दूर तक और किस्तों में थोड़े थोड़े अंतराल पर लगातार सुनाई दे रही है।



के मुजफ्फरपुर एमएलसी प्रत्याशी शंभू सिंह की एक आहट से ही मुजफ्फरपुर सीट हॉट स्पंट बना हुआ है जेडीयू में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बेहद करीबी माने जाने वाले और बिहार के हर दल में अपनी मजबूत पैठ रखने वाले वर्तमान एमएलसी दिनेश सिंह के माथे पर चिंता की गंभीर लकीरें साफ देखी जा सकती है दशको में जो नहीं हुआ वह सब कुछ पिछले डेढ़ महीने में मुजफ्फरपुर में देखा गया और सिर्फ बिहार ही नहीं देश विदेश के कई खास जगहों पर हनक महसूस किया जा रहा है राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और तेजस्वी यादव ने जो मास्टरस्ट्रोक मारा है उसकी गूंज बहुत दूर तक और किस्तों में थोड़े थोड़े अंतराल पर लगातार सुनाई दे रही है।



मुजफ्फरपुर में तो सबसे पहले दिनेश सिंह के जाति में ही जबरदस्त बटवारा देखा जा रहा है शायद इसकी वजह लगातार डेढ़ दसक से एमएलसी रहते हुए अपने समाज के लिये कुछ नहीं करने और राजद के वरिष्ठ नेता स्व. रघुवंश प्रसाद सिंह के मामलो में नाराजगी है। पुर्व सांसद रामा किशोर सिंह ने राजद प्रत्याशी शंभू शंकर सिंह के पक्ष में मैदान संभाल रखा है। जेडीयू के गायघाट के पुर्व विधायक महेश्वर प्रसाद यादव ने अपनी ही पार्टी के दिनेश सिंह को हराने का हरसंभव प्रयास कर रहें है।

बीजेपी के पूर्व विधायक मंत्री कद्दावर नेता सुरेश कुमार शर्मा ने अपने पार्टी लाइन से हटकर तन मन धन से अपने स्वजातीय राजद प्रत्याशी शंभू की जीत की कसम खाली है वहीं पुर्व मंत्री सह कांटी क्षेत्र के पुर्व विधायक ई.अजीत कुमार भी सभी भुमिहार वोटरों का वोट पक्का करने की घोषणा कर चुके है।राष्ट्रीय जनता दल की केंद्रीय इकाई ने शंभू सिंह को हर हाल में जिताने के लिये साम दाम दंड भेद और हर मोर्चे पर इतनी घेराबंदी कर दी है की

अपने आपको मुजफ्फरपुर का बेताज बादशाह मानने अपने शान में कसिदे सुनने के आदी हो चुके दिनेश सिंह की रातों की नींद और दिन का चैन छिन गया है मुजफ्फरपुर के हर क्षेत्र में नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधियों से त्रिस्तरीय संम्मान समारोह कर रहे है हर छोटे बड़े कार्यक्रम में सपरिवार हाजिरी लगा रहै है चुनाव से पहले धनवर्षा हो रही है लेकिन चेहरे पर चिंता साफ दिख रहा है इस बार दिनेश सिंह की चिंता स्टेशन के भव्य होटल में भी कम नहीं होती है चिंता इस बात की है की अब आगे दोनो जिलों के हर पद पर होने वाली बहाली में हिस्सा कैसे मिलेगा हर किमती जमीन में शेयर क्या होगा

भुमिहार-यादव-राजपूत-मुस्लिम समीकरण बना तो आगे दिनेश सिंह जैसों का क्या होगा?


शंभू सिंह इफेक्ट्स

दिनेश सिंह को पहले कभी इतना चिंतित

कभी देखा था किसी ने

कटरा में पसीने से लथपथ दिनेश सिंह ⬇️

कटरा में दिनेश सिंह

सरैया में दिनेश सिंह

मीनापुर में दिनेश सिंह

मीनापुर

गायघाट और पारू में दिनेश सिंह

कुढ़नी में दिनेश सिंह

सकरा में दिनेश सिंह

साहेबगंज में दिनेश सिंह

मुरॉल में दिनेश सिंह


0 comments