ei1WQ9V34771.jpg

MLA अशोक सिंह राजू सिंह रामसूरत राय दिनेश सिंह पर अपराधिक मामलो के जांच मे तेजी का आदेश हाईकोर्ट


मुजफ्फरपुर, के पूर्व एवं वर्तमान विधायकों के खिलाफ चल रहे मुकदमों को लेकर हाईकोर्ट की मॉनीटरिंग के बाद इसकी सुनवाई में तेजी आ गई है। इन मामलों में गवाह एवं साक्षियों की पेशी को लेकर जिला अभियोजन पदाधिकारी ने डीएम एवं एसएसपी को इन मामलों की सूची भेजी है। इसमें गवाहों एवं साक्ष्य की भी सूची का जिक्र है। इसमें कई वर्तमान विधायकों का भी नाम है। डीएम को भेजे पत्र में जिला अभियोजन पदाधिकारी ने कहा कि 15 कांडों में संबंधित साक्षियों का उपस्थापन कांडों के अग्रिम तिथि के अनुसार आवश्यक है। ये सभी कांड अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम, पश्चिमी के न्यायालय में साक्ष्य के लिए लंबित है। अनुरोध है कि इस संबंध में अभियोजन कोषांग के पुलिस पदाधिकारी को संबंधित न्यायालय में गवाहों के उपस्थापन के लिए आदेश दी जाए।



जिला लोक अभियोजन पदाधिकारी की सूची के अनुसार सकरा विधायक अशोक कुमार चौधरी पर कांटी थाना के मामले में चार गवाहों को 21 मार्च को पेश कराने का आग्रह किया गया है। साहेबगंज विधायक राजू सिंह के खिलाफ साहेबगंज थाना के मामले में 22 फरवरी को सुनवाई होनी है। इसमें भी सात साक्षियों को प्रस्तुत कराने की बात कही गई है। मीनापुर विधायक राजीव कुमार उर्फ मुन्ना यादव के खिलाफ अहियापुर थाना के मामले में तीन साक्षियों को प्रस्तुत किया जाना है। इसके लिए 10 मार्च की तिथि तय की गई है। पारू विधायक अशोक कुमार सिंह पर सरैया थाना में दर्ज मामले में तीन गवाह को प्रस्तुत किया जाना है।



औराई थाना में राजस्व मंत्री रामसूरत राय पर दर्ज मामले की 24 फरवरी को होने वाली सुनवाई पर चार साक्षियों को गवाही देनी है। नगर थाना में दर्ज विधायक बिजेंद्र चौधरी के मामले में दो गवाहों को पेश किया जाना है। पूर्व एमएलसी दिनेश प्रसाद सिंह के खिलाफ करजा थाना के मामले में 16 मार्च की सुनवाई में सात लोगों को साक्षी के रूप में पेश करने का आग्रह किया गया है। इनके अलावा पूर्व एमएलसी महाचंद्र प्रसाद सिंह, डा. नरेंद्र प्रसाद सिंह, पूर्व विधायक राम विचार राय, मिथिलेश राय, विजय कुमार शुक्ला उर्फ मुन्ना शुक्ला के मामलों की सूची भेजी गई है।

0 comments