ei1WQ9V34771.jpg

1 हफ्ते बाद मुजफ्फरपुर जर्दा व्यापारी हत्याकांड के उद्भेदन का दावा एनकाउंटर के बाद दबोचे गये 3 शातिर


मुजफ्फरपुर भारी दबाव के बाद अंततः मुजफ्फरपुर जर्दा कारोबारी गोविंद ड्रोलिया की हत्याकांड के खुलासे का दावा किया। व्यावसायिक प्रतिस्पर्धा में पड़ोसी दुकानदार राजू के बेटे राहुल और भांजे सुमित ने वारदात को अंजाम दिया था। राहुल की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने सुमित की गिरफ्तारी को लेकर बीबी कॉलेजिएट इलाके में शनिवार की देर रात छापेमारी की। सुमित ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। जिसके बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की देर रात मुजफ्फरपुर शहर के सबसे व्यस्त ईलाके मोतीझील और जवाहरलाल रोड के लोग अचानक हुए गोलीबारी से फिर किसी अनहोनी आशंकाओं से दहशत में आ गये धीरे धीरे पता चला की अपराधियों की पुलिस से मुठभेड़ हुई है।

ऐसे हुआ मामले का खुलासा, पुलिस ने देर रात की कार्रवाई

पुलिस के एक्शन में आरोपी सुमित को गोली लगी, बाद में उसे दबोच लिया गया। हथियार तस्कर विश्वजीत भी गिरफ्तार हो चुका है। घटना में इस्तेमाल बाइक और पिस्टल पुलिस ने बरामद कर ली है। आधी रात बाद एसएसपी जयंतकांत ने सदर अस्पताल में भर्ती सुमित से पूछताछ की। वह बीबी कॉलेजिएट घटनास्थल पर भी पहुंचे। पुलिस के मुताबिक, गोविंद ड्रोलिया सरैयागंज से एक साल पहले एमएसकेबी कॉलेज के पास पान मसाले की दुकान लगाने लगे। पहले वहां राजू का कारोबार काफी फल-फूल रहा था। गोविंद के कारोबार से राजू का बिजनेस मंदा पड़ रहा था। यह राजू के बेटे राहुल को नहीं देखा गया।

सीसीटीवी फुटेज और बाइक से हुआ खुलासा

सुमित के भागने के बाद राहुल के बाइक से उसके पीछे भागते हुए का सीसीटीवी फुटेज पुलिस को मिला, जो वारदात में अहम सुराग साबित हुआ। शनिवार की रात पुलिस ने राजू के बेटे राहुल को दबोचा। उसने पुलिस को बताया कि गोली मारने वाला सुमित गोविंद ड्रोलिया के घर के पीछे बीबी कॉलेजिएट में है। टाउन थानेदार अनिल कुमार पुलिस टीम के साथ रात 11.30 बजे सुमित को पकड़ने वहां पहुंची। तभी उसने फायरिंग कर दी।

एसएसपी जयंत कांत ने दी घटना की जानकारी

एसएसपी जयंत कांत, टाउन डीएसपी रामनरेश पासवान, डीएसपी सियाराम यादव, टाउन थानेदार अनिल कुमार और इंस्पेक्टर ओमप्रकाश ने घटनास्थल की जांच की। गोविंद ड्रोलिया हत्याकांड का खुलासा करने में पुलिस को एक बाइक से सफलता मिली है। बहुत हद तक सीसीटीवी फुटेज का इसमें योगदान रहा है। 200 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे को पुलिस टीम ने खंगाला। एसएसपी जयंत कांत ने बताया कि सुमित को जवाबी कार्रवाई में गोली लगी है उसे इलाज के लिए एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया


0 comments