top of page
ei1WQ9V34771.jpg
  • Ali Haider

व्यापारी के घर में 40 लाख की डकैती मासूम बच्चे को बनाया ठाल बमबारी कर के मचाई दहशत


सीतामढ़ी में व्यापारी के 5 साल के पोते के सिर पर बंदूक रखकर डकैत सोने-चांदी के जेवर समेत 40 लाख लूट ले गए। डकैत दो घंटे तक घर में रहे और एक-एक कमरे की तलाशी ली। डकैती के बाद जाते समय 3 बम भी मारे, ताकि उनका कोई पीछा न करे। परिवार ने बदमाशों की संख्या 12 बताई है। मामला सीतामढ़ी के मेजरगंज के नेपाल बॉर्डर स्थित बसबिट्टा बाजार का है। लूटपाट के बाद डकैत नेपाल के रास्ते फरार हो गए। हालांकि, डकैतों का घर में घुसते फुटेज बगल की दुकान में लगे सीसीटीवी में कैद हो गया।व्यापारी पुनितलाल दास अपने परिवार समेत घर में सोए थे। परिवार ने बताया कि सभी डकैत हथियार से लैस थे। रात करीब 1:30 बजे के करीब वे घर के मेन दरवाजे को फांद कर अंदर घुस गए। इसके बाद उन्होंने परिवार के लोगों को एक-एक कर बंधक बना लिया। घटना के समय घर में कुल 6 लोग थे। इसके बाद 5 साल के मासूम को बंदूक की तान दी। डकैतों ने सभी को एक कमरे में बंद कर दिया। बाकी सारे डकैतों ने घर के हर कमरे में जा-जाकर जेवरात और सामान समेत 40 लाख की डकैती कर फरार हो गए।


अंडरवियर में पहुंचे थे सभी डकैत, अजीब थी भाषा


व्यापारी ने बताया कि उनकी भाषा थोड़ी अजीब थी। आपस में वह जो भी बात कर रहे थे, कुछ समझ नहीं आ रहा था। सभी डकैत अंडरवियर में थे। लूटपाट के बाद वह सुबह 4 बजे के आसपास घर के बाहर निकले और एक के बाद एक कुल तीन बम फोड़े। इतना डर लग रहा था कि काफी देर तक हम बाहर नहीं निकले, लेकिन बम की आवाज सुन भीड़ लग गई। हालांकि, बगल की दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में भी 6 से 7 डकैत देर रात 1 बजकर 24 मिनट पर घर के अंदर घुसते दिख रहे हैं।


बॉर्डर के पास भी दिखे बम विस्फोट के निशान

सुबह घटना की जानकारी स्थानीय थाना पुलिस को दी गई। घटना की सूचना पर सदर DSP रमाकांत उपाध्याय और मेजरगंज पुलिस मौके पर पहुंची। घटनास्थल पर एसएसबी की टीम ने भी पहुंचकर जांच की। SSB बैरगिनिया से डॉग स्क्वॉड को भी बुलाया गया। लेकिन, स्क्वॉड घटनास्थल से नेपाल बॉर्डर पर जाकर रुक गया। SSB के अनुसार सभी हथियारबंद डकैत घटना को अंजाम देने के बाद नेपाल की ओर फरार हो गए।घटना के संबंध में डीएसपी सदर रमाकांत उपाध्याय ने बताया कि जांच पड़ताल के दौरान पुलिस को सीमा के निकट भी बम विस्फोट के निशान दिखे। पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है। जल्द ही सभी डकैतों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। हालांकि, थानाध्यक्ष ने 40 लाख के सामान की डकैती की बात से इनकार किया है।

0 comments

Comments


bottom of page