ei1WQ9V34771.jpg

दिनेश सिंह से मांगा 1 करोड रंगदारी राजद ने बताया बौखलाहट सत्ताधारी दल धनबली को कौन दे सकता है धमकी?


मुजफ्फरपुर से निवर्तमान MLC सह JDU के प्रत्याशी दिनेश प्रसाद सिंह ने शिकायत की के मंगलवार को कॉल कर उनसे एक करोड़ की रंगदारी मांगी गई है। यह धमकी उन्हें तब मिली जब आज उनके नाम की घोषण मुजफ्फरपुर के MLC उम्मीदवार के रूप में हुई। रुपए नहीं देने पर उन्हें AK-47 से भूनकर हत्या करने की धमकी मिली है। मामला संज्ञान में आते ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। घटना को लेकर पूर्व MLC के निजी सचिव पारू थाना के कर्मवारी गांव के चंद्रभूषण कुमार ने सदर थाने में FIR दर्ज कराया है।

बताया कि MLC के मोबाइल पर 2:17 मिनट पर एक अनजान नंबर से धमकी भरा मैसेज आया। कुछ देर बाद उसी नंबर से कॉल भी आया। कॉल करने वाले ने मैसेज पढ़ने की बात कही। इसके बाद कॉल काट दिया। चंद्रभूषण ने मैसेज पढ़ा। उसमे लिखा था कि पुलिस को सूचना पुलिस को सूचना देने पर अंजाम बुरा होगा। एक करोड़ रंगदारी चाहिए। जगह मैं तय करूंगा। उसने एक नंबर और दो व्यक्ति का नाम लिख कर बात करने को कहा। साथ ही जरा सी चालाकी करने पर बीबीगंज स्थित घर पर पहुंच कर AK-47 से हत्या कर देने की धमकी दी।

राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने इस घटना के तुरंत बाद ही कहा की सबसे पहले तो ये सब पब्लिसिटी स्टंट करने से कोई फायदा नहीं है हार तय जानकर हताश व्यक्ति अंटशंट बोलने लगता है ये बस पावर जाने की घबराहट है अगर इस बात में 1 आना भी सच्चाई है तो बिहार मे राष्ट्रपति शासन लगना चाहिये जब सत्तारूढ़ दल के फाईनेसर धनबली निवर्तमान एमएलसी सुरक्षित नही है तो ये सरकार जनता की रक्षा क्या खा़क करेगी इस सरकार को भंग कर देना चाहिये।

MLC पद के प्रबल दावेदार दिनेश प्रसाद सिंह तीन बार एमएलसी रह चुके है। पहली बार वे निर्दलीय एमएलसी बने थे। दूसरी व तीसरी बार जदयू के सिंबल पर उन्होंने चुनाव जीता था। चौथी बार भी वे चुनाव मैदान में है। इस बार भी MLC पद के प्रबल दावेदार माने का रहे हैं। उन्हें इस बार जदयू ने अपना उम्मीदवार बनाया है। उनके सामने RJD ने बाहुबली शंभु सिंह की मैदान में उतारा है।

CDR व टावर लोकेशन खंगाल रही पुलिस सदर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। जिस नम्बर से धमकी भरा कॉल आया था उसका CDR और टावर लोकेशन खंगाला जा रहा है। केस का IO प्रशिक्षु दारोगा ललन कुमार को बनाया गया है। SSP जयंतकांत खुद पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रहे है। उन्होंने एक विशेष टीम का गठन किया है। विशेष पुलिस टीम ने रंगदारी व हत्या करने की धमकी भेजने वाले मोबाइल नंबर की सीडीआर व टावर लोकेशन खंगालना शुरू कर दिया है।

खुफिया विभाग भी जता चुकी है आशंका खुफिया विभाग ने भी दिनेश प्रसाद सिंह के एक प्रत्याशी के साथ चुनावी रंजिश में विवाद होने की आशंका व्यक्त की थी। इसके बाद से पुलिस महकमा अलर्ट मोड में है। दो साल पूर्व भी उन्हें मोबाइल पर धमकी मिल चुकी है। बता दें कि चार अप्रैल को MLC का चुनाव होने वाला है। एक तरफ पावरफुल दिनेश सिंह हैं तो दूसरी तरफ बाहुबली शम्भु सिंह। शम्भू का नाम MLC पद के लिए सामने आने के बाद से मुजफ्फरपुर में कई तरह की चर्चाएं शुरू हो गयी थी।

0 comments