top of page
ei1WQ9V34771.jpg
  • Ali Haider

एक्सिस बैंक और गोल्डलोन बैंक लूटने से लोगों ने बचा लिया 3 लुटेरों को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले


मुजफ्फरपुर शहर के बीचोबीच मिठनपुरा थाना क्षेत्र के क्लब रोड में गुरुवार देर रात करीब डेढ़ बजे मणप्पुरम गोल्ड लोन और एक्सिस बैंक में डाका डालने पहुंचे 4 बदमाशों में से तीन काे स्थानीय लोगों ने दबोच लिया। तीनों की जमकर पिटाई की। लुटेरों के पास से 3 गैस सिलेंडर, कटर मशीन, हथौड़ा, छेनी, खंती, डिजिटल लॉक तोड़ने वाला औजार समेत अन्य सामान बरामद किए गए हैं। सूचना मिलने पर थानेदार श्रीकांत प्रसाद फोर्स के साथ पहुंचे। लुटेरों को भीड़ की चुंगल से छुड़ाकर हिरासत में लिया। पूछताछ करने पर 3 लूटेरों की पहचान पटना गुलजारबाग के उपेंद्र साह, छपरा छठु और नागेंद्र के रूप में हुई है। तीनों को लेकर थाने लेकर आई। पूछताछ कर फरार लुटेरे की तलाश में छापेमारी की जा रही है। चौथा लुटेरा मौके से बचकर भाग निकला था।

स्थानीय लोगों की सजगता से टली वारदात

होली और शब-ए-बारात को लेकर बैंक में 3 दिनों की छुट्टी है। इसे लेकर लुटेरों ने पहले से इसकी तैयारी कर रखी थी। मणप्पुरम गोल्ड लोन और एक्सिस बैंक के पीछे खुला मैदान है। पुलिस पूछताछ में पता लगा कि लुटेरे इसी मैदान में रात को जुटे थे। फिर देर रात जब उन्हें लगा कि सब लोग सो गए होंगे। तब दीवार फांदकर बैंक परिसर में घुसे। गैस कटर से ग्रिल को काटने लगे। इसी दौरान आसपास के लोगों को इसकी भनक लग गई। स्थानीय लोगों ने एकजुट होकर एक साथ बैंक परिसर में धावा बोल दिया। देखा कि लुटेरे बैंक में घुसने की कोशिश कर रहे हैं। लोगों को देखते ही सभी भागने लगे। भीड़ ने खदेड़ कर तीन को दबोच लिया। स्थानीय लोगों की सक्रियता और बहादुरी से वारदात टल गई।

एक महीने से थी लूट की प्लानिंग पुलिस पूछताछ में पता लगा कि एक महीने पहले से दोनों बैंक को लूटने की साजिश रची गई थी। ये लोग बैरिया इलाके में किराए का कमरा लेकर रह रहे थे। एक लुटेरा जीरोमाइल में गैरेज में भी काम करता था। इस बीच ये लोग कई बार आकर दोनों बैंक का चारों तरफ से रैकी कर चुके थे। बैंक में किधर से प्रवेश करना है। इसका भी मुआयना कर चुके थे। होली की छुट्टी होने का इंतजार कर रहे थे।

रिकॉर्ड खंगालने में जुटी पुलिस गिरफ्तार लुटेरे में से एक का भाई भी अपराधी बताया जा रहा है। उसने 2016 में माड़ीपुर स्थित एक्सिस बैंक से दिनदहाड़े अपने गिरोह के साथ मिलकर 47 लाख रुपए लूट लिए थे। गोल्ड और बैंक लूटने में माहिर हैं। इन सभी का रिकॉर्ड पुलिस खंगालने में जुटी है। वहीं दोनो बैंक के प्रबंधक को इसकी जानकारी दे दी गयी है। आज वे लोग बैंक में आकर मूल्यांकन करेंगे। इसी आधार पर आवेदन देंगे। फिलहाल पुलिस अपने स्तर से कार्रवाई कर रही है। मुथूट फाइनेंस से हो चुका 10 करोड़ का सोना लूट मुजफ्फरपुर में दो साल पहले भगवानपुर स्थित मुथूट फाइनेंस की शाखा से 10 करोड़ का सोना लूट हो चुका है। इस घटना को विकास झा और उसके गिरोह ने अंजाम दिया था। इसमें से सभी लुटेरे पकड़े जा चुके हैं। इससे पहले मुजफ्फरपुर में SBI से 22 लाख, एक निजी फाइनेंस कम्पनी से 15 लाख, अखडाघाट में कैश वैन से 14 लाख, कच्ची पक्की में कैश वैन से 25 लाख रुपए की लूट की घटना घट चुकी है।

0 comments

Commentaires


bottom of page