top of page
ei1WQ9V34771.jpg
  • Ali Haider

अवैध अमेरिकी पिस्तौल का सौदा करते तीन तस्कर गिरफ्तार भारी मात्रा मे कारतूस और कैश बरामद


मुजफ्फरपुर स्पेशल पुलिस टीम को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. मुजफ्फरपुर पुलिस ने 3 हथियार तस्करों को एक पिस्टल समेत भारी मात्रा में नकदी के साथ गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि ग्लौक पिस्टल एक अत्यधिक हाई क्वालिटी पिस्टल है. जो सिर्फ एसटीएफ, एटीएस और आईपीएस अफसरों के अलावा सुरक्षा एजेंसी को सप्लाई की जाती है. यह सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल है और इसका निशाना बिल्कुल अचूक है.

एसटीएफ और एटीएस को सप्लाई होने बाले पिस्टल

मुजफ्फरपुर पुलिस को सूचना मिली कि नगर थाना क्षेत्र में कुछ हथियार तस्कर आभूषण दुकान की आड़ में हथियारों की खरीद बिक्री कर रहे हैं. जिसके बाद नगर पुलिस उपाधीक्षक के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया. जिसमें नगर थाना क्षेत्र के छाता बाजार इलाके से छापेमारी करके मंगलम उर्फ गोलू नरेंद्र उर्फ मनीष और कुंदन को अत्याधुनिक ग्लौक पिस्टल के साथ गिरफ्तार किया है.

एसएसपी जयंतकांत ने बताया कि गिरफ्तार तीनों अपराधियों से पूछताछ में हथियार तस्कर गिरोह का पता चला है जिसका तार विभिन्न राज्यों के हथियार तस्करों से है. इन अपराधियों का हाल के दिनों में हुए कई अन्य आपराधिक घटनाओं में संलिप्तता स्वीकार की है. इनलोगों ने मुथूट फाइनेंस से हुए सोना लूट में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है. पुलिस इनके पास से 1 ग्लोक पिस्टल, 33 जिंदा कारतूस और 3,50,000 रुपये नकद भी बरामद किया है.

कोलकाता जेल से हुई थी ये डील

मंगलम ने पुलिस को बताया कि कुछ दिन पूर्व कोलकाता जेल में बंद कुख्यात अपराधी सुजीत कुमार राय ने उसे व्हाट्सएप कॉल किया था. वह सोना लूट और हत्या के केस में जेल में बंद है. वह समस्तीपुर जिले के मुसरीघरारी का रहने वाला है. उसने एक युवक के माध्यम से ये पिस्टल भेजा था. इसे आभूषण दुकानदार नरेंद्र को बेचना है. उसी की डील करने मंगलम और कुंदन नरेंद्र के घर गए थे. ये सौदा 5.50 लाख रूपये में तय हुआ था. फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले को गंभीरता से जांच कर रही है.

0 comments

Comments


bottom of page