ei1WQ9V34771.jpg

बेकाबू अपराधिक घटनाओं पर मुजफ्फरपुर डीएम ने एसएसपी से कहा-दुरुस्त करें जिले का लॉ एंड आर्डर


मुजफ्फरपुर । जिले में बढ़ती आपराधिक घटनाओं को रोकने और गिरती विधि व्यवस्था को दुरुस्त करने को लेकर जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने एसएसपी जयंत कांत को पत्र लिखा है। इसमें 10 बिदुओं पर अनुश्रवण कर की गई कार्रवाई से अवगत कराने को कहा गया है। कहा गया है कि की गई कार्रवाई की मानीटरिग प्रतिदिन राज्य मुख्यालय द्वारा की जाएगी। साथ ही

जिला प्रशासन द्वारा उक्त कृत कार्रवाई से राज्य मुख्यालय को भी अवगत कराया जाता है। कहा गया कि सार्वजनिक स्थलों पर फायरिग, शस्त्र लहराना एवं धमकी देना, हत्या, लूट, डकैती, फिरौती के लिए अपहरण, रंगदारी, चेन व मोबाइल फोन छीनने की घटना, महिलाओं के विरुद्ध अपराध व अनुसूचित जाति एवं जनजाति के विरुद्ध अत्याचार के मामले को गंभीरता से लेते हुए रोकथाम को ठोस कार्रवाई करें। गंभीर मामलों में संलिप्त एवं वांछित अपराधियों की त्वरित गिरफ्तारी सुनिश्चित की जाए।

डीएम ने कहा कि साथ ही एसएसपी द्वारा इस बात की

समीक्षा की जाएगी कि प्रतिदिन कुल निर्गत वारंट के विरुद्ध कितनी गिरफ्तारी की गई है। साथ ही कितने वारंट लंबित हैं। समीक्षा में यह देखा जाएगा कि एक माह के अंदर के कितने वारंट लंबित है। एक से तीन माह और तीन माह से अधिक के कितने वारंट लंबित हैं। आपराधिक घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस बल की प्रभावी गश्ती सुनिश्चित की जाए। थाना स्तर पर अगले 24 घंटे के लिए पैदल व वाहन से गश्ती के लिए एक रोस्टर तैयार किया जाए, और थानाध्यक्ष यह सुनिश्चित करेंगे कि गश्ती दल निर्गत रोस्टर के अनुसार काम करें।

0 comments