top of page
ei1WQ9V34771.jpg
  • Ali Haider

बिहार बीजेपी पे गुटबाजी चरम पर नीतीश मिश्रा से उलझे नित्यानंद राय,सुशील मोदी vs भूपेंद्र यादव


Bihar BJP में इन दिनो सब कुछ ठीक ठाक नहीं चल रहा. पार्टी में वर्चस्व की खुली लड़ाई के साथ गुटबाज़ी चरम पर है. पार्टी में जहां एक ओर पुराने नेताओं का गुट सुशील मोदी के नेतृत्व में सक्रिय है, वहीं दूसरे गुट का नेतृत्व केंद्रीय मंत्री भूपेन्द्र यादव करते हैं, जिसमें केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय, बिहार भाजपा के अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल और मंत्री राम सूरत राय जैसे लोग शामिल हैं, हालत ऐसी है की भूपेन्द्र यादव गुट के लोग अब किसी भी विधायक या वरिष्ठ नेता कार्यकर्ता को कभी भी अपमानित कर देते हैं.ऐसी ही एक घटना में पार्टी कार्यालय में केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय पूर्व मंत्री नीतीश मिश्रा पर जमकर बरस पड़े. नित्यानंद ने तो यहां तक कह डाला कि इन लोगों की सौ आदमी जुटाने की औक़ात नहीं हैं. ये मामला पिछले हफ्ते का है, जब वीर कुंवर सिंह जयंती के

कार्यक्रम के आयोजन के सिलसिले में पार्टी कार्यालय में बैठक के दौरान झंझारपुर से विधायक और पूर्व मंत्री नीतीश मिश्रा ने हर विधायक के ज़िम्मे जो लोगों को लाने का कोटा तय किया तो उस पर कुछ व्यावहारिक दिक्कतों का हवाला देते हुए कुछ सुझाव दिए, जिस पर उस बैठक में मौजूद लोगों के अनुसार- केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय उखड़ गये और उन्हें अनाप शनाप बोल दिया.नित्यानंद ने नीतीश मिश्रा को नकारात्मक सोच का इंसान बताया और बाद में पार्टी दफ़्तर में कहा कि इन लोगों की हैसियत सौ लोगों को भी लाने की नहीं है, हालांकि इस बैठक में उपस्थित बिहार भाजपा के अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल ने बीच बचाव भी किया और नीतीश मिश्रा की बातों को सुनने का आग्रह

भी किया, हालांकि नीतीश मिश्रा ने अपने क्षेत्र के लोगों को लेकर जगदीशपुर भी गए, जिसके बारे में उन्होंने सोशल मीडिया पर समारोह मेंअपने कोटे का ईकट्ठा किये लोगों की फ़ोटो भी शेयर किया है.

इससे पूर्व बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने भी पिछले हफ़्ते बोचहा चुनाव के सम्बंध में ट्वीट कर पार्टी के अंदर गुटबाज़ी को हार का एक प्रमुख कारण माना था, लेकिन ये भी सच हैं कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जगदीशपुर के कार्यक्रम के सफलता के लिए केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय को मंच से क्रेडिट दे दिया था.


0 comments

Comments


bottom of page