top of page
ei1WQ9V34771.jpg
  • Ali Haider

मुजफ्फरपुर: बेखौफ लूटेरों ने शहर से सटे लदौरा मे पिस्तौल का भय दिखाकर पत्रकार का बाइक व मोबाइल लूटा


मुजफ्फरपुर शहर से सटे लदौरा में तिरहुत नहर पर रविवार शाम करीब सात बजे दो अपराधियों ने कुढ़नी इलाके के पत्रकार चंदन कुमार की काले रंग की अपाचे बाइक पिस्तौल के बल पर लूट ली। अपराधियों में एक लंबे और दूसरा नाटे कद का था। नाटे कद के अपराधी ने पिस्तौल तानी और लंबे कद के अपराधी ने घुस्सा मारकर धमकी दी


उत्तर बिहार का सबसे विश्वसनीय स्पोर्ट्स गुड्स प्रतिष्ठान


कि जल्दी भागों नहीं तो गोली मार देंगे। अपराधियों ने चंदन से एक मोबाइल भी छीन ली। बाइक छीनने के बाद अपराधी गोबरसही की ओर भाग निकले। दूसरे मोबाइल से उन्होंने तुर्की और सदर थाने की पुलिस को घटना की सूचना दी और अपराधियों के गोबरसही की ओर भागने के बारे में बताया। चंदन ने बताया कि वह शहर से गांव लौट रहे थे। रास्ते में उन्हें पुलिस की गश्ती भी मिली थी।बता दें कि चंदन से लूटपाट करने वाले कद काठी के अपराधियों ने बीते चार जनवरी को भी कांटी में लालरंग की अपाचे बाइक से लूट की वारदात को अंजाम दिया था। कांटी के राकेश कुमार शहर से लौट रहे थे। वहीं एसएसपी ने बताया कि 24 घंटे के अंदर अपराधियों को गिरफ्तार कर बाइक बरामद करने का टास्क सदर और तुर्की ओपी पुलिस को दिया गया है। आशंका है कि जेल से छूटे शातिर लूट की वारदात को अंजाम दे रहे हैं।

Ad GatherContent

नागरिकों की सुरक्षा के हिसाब से स्थिति चिंताजनक है मुजफ्फरपुर के अपराधियों में कानून का खौफ खत्म हो चुका है लोगों को ऐसा लग रहा है की 2005 से पहले वाली स्थिति वापस आ गई है जब थोड़े से सुनसान या अंधेरे में गुजरने से पहले भय सताने लगता है की कही कोई अपराधी कुछ अनहोनी तो नहीं कर देगा।

मुजफ्फरपुर एसएसपी जयंतकांत को हालात काबू में करने के लिये पुर्व के कुछ अधिकारी की तरह स्वयं क्षेत्र में निकलकर घूमना चाहिये सिर्फ निशा निर्देश देने से कुछ फायदा होता नहीं दिख रहा।

0 comments

Comments


bottom of page