ei1WQ9V34771.jpg

मुजफ्फरपुर : बच्चे के माथे पर बंदूक तानकर भीषण डकैती, सूचना के बाद भी मौके पर नहीं पहुंची पुलिस


मुजफ्फरपुर के जैतपुर ओपी क्षेत्र में गिजास गांव में देर रात मछली व्यवसायी के घर में भीषण डैकती हुई। पीछे के रास्ते से घर मे घुसे डकैतों ने गन पॉइंट पर मछली व्यवसायी बटेश्वर सहनी समेत परिवार के अन्य लोगों को बंधक बना लिया। मुंह खोलने और शोर मचाने पर गोली मारने की धमकी दी। इसके बाद डकैतों ने कैश और जेवरात समेत अन्य कीमती सामान लूट लिया। विरोध करने पर मारपीट भी की। फिर बाहर से सभी कमरों का दरवाजा बंद कर भाग निकले।

डकैतों के भागने के बाद व्यवसायी ने शोर मचाया। तब आसपास के लोग जुटे। कमरा बाहर से खोला गया। तब सभी लोग बाहर निकल पाए। उसी समय जैतपुर पुलिस को सूचना दी गयी। लेकिन, पुलिस के एक पदाधिकारी ने झल्लाते हुए जवाब दिया कि प्रशासन को क्या तुम्हारे दरवाजे पर खड़ा कर दें। इसके बाद फोन काट दिया। सात घंटे बाद जांच को पहुंची पुलिस सोमवार सुबह होने के बाद पुलिस जांच करने पहुंची। इस दौरान करीब सात घंटे का समय बीत चुका था। पुलिस की इस शिथिल कार्यशैली को लेकर ग्रामीणों ने आक्रोश जताया। जिसके बाद पुलिस आवेदन देने की बात बोलकर लौट गई। पीड़ित ने बताया कि घर से डकैतों ने 80 हजार कैश और जेवरात लूट लिए। लूटे गए जेवरात का आकलन किया जा रहा है।

बेटी की शादी को जमा किए थे पीड़ित ने बताया कि बेटी की अगले महीने शादी करने वाले हैं। शादी तय हो चुकी है, बस तारीख उतरना बाकी था। इसी के लिए एक-एक रुपए जमा कर रहे थे। गहना भी उसी की शादी के लिए रखा था। जिसे लूटकर डकैत ले गए। घर में चीख-पुकार मची है। व्यवसाई को चिंता सता रही है कि अब बेटी की शादी कैसे करेंगे। 20 की संख्या में थे डकैत पीड़ित ने बताया की रात को खाना खाने के बाद सभी लोग सोने चले गए। इसी दौरान देर रात 20 की संख्या में डकैतों ने धावा बोल दिया। सभी के मुंह बंधे हुए थे। हाथ मे पिस्टल, चाकू और फाइटर था। घर में घुसते ही सभी लोगों को कब्जे में ले लिया। इसके बाद पिस्टल दिखाते हुए गोली मारने की धमकी देने लगे। फिर लूटपाट की और भाग निकले। सरैया SDPO राजेश शर्मा ने बताया कि घटना की जानकारी मिली है। पुलिस कार्रवाई कर रही है। पीड़ित ने जो आरोप पुलिस पर लगाया है। उसकी जांच करवा लेते है।

0 comments