ei1WQ9V34771.jpg

मुजफ्फरपुर शिक्षक बहाली में केवल 60 का ही क्यों हुआ चयन? अभ्यर्थियों ने लगाया गड़बड़ी का आरोप


मुजफ्फरपुर, प्रारंभिक शिक्षक नियोजन में शुक्रवार को तीसरे चरण की प्रक्रिया पूरी हो गई। आखिरी दिन नौ प्रखंडों में पंचायत नियोजन इकाई की ओर से काउंसलिंग की प्रक्रिया की गई। इसके लिए निर्धारित सामान्य विषयों के लिए 156 और उर्दू के लिए 16 सीटों में से कुल 60 सीटों के लिए ही अभ्यर्थियों का चयन हो सका। सरैया और बोचहां प्रखंड में एक भी अभ्यर्थी चयनित नहीं हो सके।

बताया गया कि संबंधित कोटि में सीट नहीं होने के कारण सीट रिक्त रह गए। गायघाट में छह, मोतीपुर में 22, पारू में 20, मुशहरी में एक, साहेबगंज में दो, मुरौल में पांच और कटरा में कुल चार अभ्यर्थियों को चयनित किया गया। डीईओ ने बताया कि इसके साथ ही तीसरे चरण की नियोजन प्रक्रिया पूरी हो गई। इसके बाद जो सीटें रह गई हैं उन्हें अगले चरण में जोड़कर उसके विरुद्ध शिक्षकों की नियुक्ति होगी।


अभ्यर्थियों ने लगाया गड़बड़ी का आरोप

प्रारंभिक शिक्षक नियोजन में शिक्षक अभ्यर्थियोंं ने गड़बड़ी करने का आरोप लगाया। विभिन्न नियोजन इकाई के खिलाफ डीईओ को ज्ञापन सौंपा गया। अभ्यर्थियों का आरोप था कि अधिक अंक होने के बाद भी उन्हें मौका नहीं मिला, जबकि उससे कम अंक वाले का चयन कर लिया गया। डीईओ ने कहा कि पूरी प्रक्रिया कैमरे के सामने कराई गई है। इसमें किसी प्रकार की गड़बड़ी नहीं हुई है। आखिरी दिन जिन अभ्यर्थियों का चयन नियोजन इकाई की ओर से किया गया है उन्हें 24 घंटे के भीतर प्रमाणपत्र कोषांग को सौंपना है।

0 comments