ei1WQ9V34771.jpg

मुजफ्फरपुर में बाल्टी बमों के जखीरा की बरामदगी से मचा हडकंप हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तार


मुजफ्फरपुर जनपद के कथैया थाना क्षेत्र के रामपुर भेरियाही से सनसनीखेज ख़बर आ रही है रामनरेश सहनी के घर में छापेमारी कर नौ केन बम बरामद किया। बम शौचालय की टंकी के बगल में छुपाकर रखे गए थे। मौके से ही पुलिस ने रामनरेश सहनी को गिरफ्तार कर लिया। बमों को निष्क्रिय कर दिया गया है। वहीं, गिरफ्तार रामनरेश सहनी से पुलिस गहन पूछताछ कर रही है।

250 ग्राम का है एक बम टिफिन में बारूद और अन्य विस्फोटक सामग्री मिलाकर बम तैयार किया गया है। इसे रामनरेश ने ही बनाया है। वह वर्षो से अपराध की दुनिया में रहा है। कई बार जेल भी जा चुका है। बम बनाने की कला में वह माहिर है। उसे ने ये बम तैयार किया था और अपने घर मे ही रखा था। एक बम का अनुमानित वजन 250-300 ग्राम बताया गया है। अगर बम फटता तो इसके धमाके से काफी बर्बादी होती। जान भी जा सकती थी। लेकिन, समय रहते पुलिस ने बड़ी घटना होने से टाल दिया।

कई बिन्दुओं पर चल रही पूछताछ आरोपी रामनरेश बारूद और विस्फोटक सामान कहां से लाया था। इस बिंदु पर उससे पूछताछ की जा रही है। SSP जयंतकांत ने बताया कि आरोपी से गहनता से पूछताछ चल रही है। ताकि बारूद उपलब्ध कराने वाले का पता लग सके।

बम मिलने की सूचना पर अफरातफरी इधर, रामपुर भेरियाही गांव में बम मिलने की सूचना पर अफरातफरी मच गई। काफी संख्या में आसपास से लोग जुट गए। सभी के मन में डर भी था लेकिन, फिर भी बम देखने के लिए उमड़ पड़े। पुलिस ने सुरक्षा की दृष्टिकोण से भीड़ को वहां से हटाया। इसके बाद बम को पानी में रख दिया गया। पुलिस का कहना है कि फिलहाल खतरे की बात नहीं है। एहतियातन बम स्क्वाड की टीम को बुलाया गया है।

गिरफ्तार रामनरेश सहनी से पुलिस पूछताछ कर रही है।

पुलिस ने बताया की प्रारंभिक पूछताछ में ये हिस्ट्रीशीटर कह रहा है कि उसने अपने सगे भाई की भूमि विवाद में हत्या करने के लिए खुद बम बनाया और उसे छुपाकर रखा था लेकिन यह बात बेतुका है इतने भयानक और इतने सारे बम किस लिये बनाया गया ये जांच का विषय है बीते दिनों हुएं पंचायत चुनाव और नकस्लियो से इसके संबंध पर गहन अध्ययन किया जाना है । वह पूर्व में भी कई बार जेल जा चुका है।

0 comments