top of page
ei1WQ9V34771.jpg
  • Sweet City Muzaffarpur

NEWS FLASH मुजफ्फरपुर में नहीं थम रहा कानून हाथ में लेकर बर्बरतापूर्वक मारपीट का मामला


कानून और पुलिस से बेखौफ भीड़ का सड़क पर तालीबानी हिंसक कारवाई करने की मानसिकता कम होने का नाम नहीं ले रही है,लोग कोर्ट जांच छानबीन की प्रक्रिया से उपड़ उठ कर आरोप लगाने के साथ ही मिनटों में सजा का खुद फैसला कर ले रहें है

मुजफ्फरपुर में साइकिल चोरी का आरोप लगाकर कुछ लोगों ने एक युवक को बिजली के खंभे में बांधकर जमकर पिटाई की घटना जिले के अहियापुर थाना क्षेत्र के अखराघाट मेन रोड की है। इस घटना की सूचना कुछ लोगों ने अहियापुर पुलिस को दी।नगर डीएसपी राम नरेश पासवान ने मामले की जानकारी ली। आरोपी को लोगों से मुक्त करा कर सिकंदरपुर ओपी ले जाया गया वहां युवक से पूछताछ की जा रही है।

मारपीट करने वाले युवक के बयान के अनुसार उसका नाम राजीव है अखराघाट मेन रोड के फर्नीचर के दुकान में कर्मचारी है वह निजी काम से जीरोमाइल चौक गया था। वहां एक मोबाइल दुकान में वह चार्जर लेने गया था। इसी दौरान उक्त शातिर उसकी साइकिल चोरी कर फरार हो गया इसपर राजीव ने दुकान पर काम करने वाले साथियों को कॉल कर जीरो माईल बुलाया इसी दौरान सामने से गुजर रहे शातिर को सायकिल के साथ देख लिया। इसके बाद लोगों ने उसे पकड़ बिजली के खंभे से बांधकर पिटाई कर दी। इधर, पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है। शातिर के नाम पते का सत्यापन किया जा रहा है। जिसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

ज्यादातर मामलों में पुर्व के व्यक्तिगत विवाद या वैचारिक जातिगत मामले को चोरी या छेडख़ानी आदि का अफवाह फैलाकर सोची समझी प्लानिंग के साथ इस प्रकार के कृत्यों को अंजाम दिया जाता है और राजनीतिक वोटबैक के प्रभाव में शख्त कानूनी कारवाई भी नही होती है इसलिये आये दिन इस तरह के मिलते जुलते मामले प्रकाश में आते है।

किसी व्यक्ति या संगठन के मोहरे बनने से बचे कानून अपने हाथ में लेना एक ऐसा जुर्म है जिसमें आप को संगीन सजा भुगतनी पड़ेगी कोई आपको उकसाकर या भड़काकर अपने एजेंडे और मकसद में सफल हो सकता है लेकिन नासमझी और जोश में आपके द्वारा किये गये ऐसे जुर्म की भारी किमत आपके साथ आपका पूरे परिवार को उठाना पड़ेगा।

अपने देश के कानूनी प्रक्रिया और न्यायीक व्यवस्था को उनका काम करने में अवरोध पैदा मत करें एक सभ्य नागरिक की तरह कानून को अपना काम करने में सहयोग करें भविष्य में कभी कानून न तोड़े ना कभी अपने आपको जज मानकर फैसला सुनाए किसी को सजा देने का प्रयास करें ना कभी किसी अमानवीय कृत का हिस्सा बने।


0 comments

Kommentare


bottom of page