ei1WQ9V34771.jpg

मुजफ्फरपुर शहर में लूट की घटना को अंजाम देकर मनियारी में छिप जा रहे अपराधी


मुजफ्फरपुर, एनएच 28 पर फौजी और गार्ड से बाइक लूट मामले में सदर पुलिस के हत्थे चढ़े शातिरों की निशानदेही पर कार्रवाई शुरू कर दी गई है। इनसे पूछताछ में मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने सात और संदिग्धों को हिरासत में लिया है।

हिरासत में लिए गए शातिरों ने पुलिस को बताया कि शहर में आसपास में बाइक लूटने के बाद अपराधियों ने मनियारी में छिपने का ठिकाना बना रखा है। इसके बाद एसएसपी के निर्देश पर सदर और मनियारी थाने की पुलिस ने सीमावर्ती इलाकों में छापेमारी शुरू कर दी है। मंगलवार रात 15 मिनट के अंतराल पर अपराधियों ने रात कुढ़नी के फौजी रोहन रंजन और गार्ड विनोद पासवान से बाइक लूट ली थी।

सदर थानेदार सत्येंद्र कुमार मिश्र ने बताया कि मंगलवार देर रात एनएच पर बाइक लूट की दो घटनाएं हुई थीं। लूटी गई बाइक, घटना को अंजाम देने में इस्तेमाल बाइक सहित दो शातिरों को पकड़ा गया है। पुलिस के बयान पर एक अलग केस दर्ज किया गया है। इसकी जांच वह खुद करेंगे। थानेदार ने बताया कि इन दिनों मनियारी और सदर थाना क्षेत्र का सीमावर्ती इलाका लूटेरों के लिए सेफ जोन बन गया था। पुलिस अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। थानेदार ने बताया कि कुढ़नी इलाके के फौजी रोशन रंजन शहर से मनियारी अपनी बहन के घर बाइक से जा रहे थे। इस दौरान दिघरा पुल के समीप बाइक सवार बदमाशों ने उनसे पिस्टल दिखाकर बाइक लूट ली। 15 मिनट के बाद इसी गिरोह ने रामदयालु नगर ओवरब्रिज पर एक पेट्रोलियम कंपनी में गार्ड की नौकरी कर रहे विनोद पासवान से भी बाइक लूट ली थी। एसएसपी के निर्देश पर बनी टीम ने मनियारी के अलग-अलग जगहों पर छापेमारी की। इसमें दो अपराधियों को गिरफ्तार किया गया था। एक बाइक लावारिस स्थिति में मिली थी। वहीं, दूसरी बाइक एक अपराधी के घर से पुलिस ने बरामद की थी।

0 comments