ei1WQ9V34771.jpg

रिश्तों की उधेड़बुन; पति ने मायके मे बिठाया तो युवती ने मौत को लगा लिया गले


मुजफ्फरपुर के सकरा थाना स्थित सकरा बाजिद पंचायत के ठाकुर टोला में बुधवार एक बेहद दुखद खबर से सुनने वालों की आंखे भर आई देर शाम एक नवविवाहिता ने आत्महत्या कर ली। नवविवाहिता ने पंखे से झूलकर आत्महत्या कर ली। घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। वहीं, मायके वालों में चीत्कार मच गया। मृतका ठाकुर टोला निवासी कौशलेंद्र ठाकुर की बेटी निक्की कुमारी थी। उसकी शादी एक वर्ष पूर्व समस्तीपुर जिले मालिनगर निवासी प्रियांशु कुमार के साथ हुई थी। लेकिन, शादी के 6 महीने बाद ही पति ने फिर से मायके भेज दिया। इसके बाद लड़की के पति ने लड़की का सुधि लेना भी उचित नहीं समझा। इससे निक्की मानसिक रूप से प्रताड़ित हो रही थी। इसके बाद बुधवार को उसने पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली।

विज्ञापन के लिये 7261081770 पर संपर्क करें

वहीं, पूरे मामले की जानकारी देते हुए सकरा वाजिद पंचायत के सरपंच कुंदन कुमार तिवारी ने बताया कि मायके भेजने के बाद ससुराल की ओर से कोई खोज खबर नहीं लेने से प्रताड़ित युवती ने पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली कहते है रिश्ते स्वर्ग में जन्म से पहले लिखा जाता है पति पत्नी का रिश्ता 7 जन्मों का होता है तो जोड़ी बनाने वाला किसी किसी के साथ इतना निष्ठुर क्यों हो जाता है मां बाप अपने लाडली को पलको पर बिठा कर प्यार से पालपोस कर बड़ा करते है जीवन भर की जमापूंजी अपने कलेजे के टूकडे की खुशी के लिये उसके पति और परिवार को बेटी के साथ सौंप देते है बदले में उन्हे बेटी के पति और ससुराल वालों से अपमान आंसू दर्द मिलता है जवान बेटी की लाश को अपने कमजोर कंधो पर उठाकर अंतिम संस्कार करने के बाद अपनी बाकी बची जिंदगी आह और आंसुओं के सहारे काटने पर मजबूर होना पड़ता है।


दोषी कौन है?

शायद सबसे बड़ा दोषी समाज है?


इधर, पूरे मामले की जानकारी सकरा थाना को दे दी गई। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।

1 comment