ei1WQ9V34771.jpg

मुजफ्फरपुर भारी संख्या मे नकली नोट बरामद 4 स्मगलर धर दबोचने में मिली कामयाबी


मुजफ्फरपुर: नेपाल और बांग्लादेश के रास्ते भारतीय सीमा क्षेत्र में भारतीय रूपये की तस्करी को लेकर मिले सटीक गुप्त सूचना के आधार पर काम कर रही मुजफ्फरपुर जिला पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल की है। टीम नेटवर्क के द्वारा की गई छापेमारी में जिला पुलिस ने मोतीपुर थाना क्षेत्र से चार अपराधियों को दबोचा है।

जिनके पास से कुल 11.50 लाख नकली भारतीय मुद्रा बरामद की गई है। यह जानकारी सोमवार को वरीय पुलिस कप्तान जयंत कांत ने अपने कार्यालय में बुलाये गये प्रेस वार्ता के माध्यम से दी।

उन्होंने बताया कि बरामद जाली नोटों में 500, 200 और ₹100 का बंडल शामिल है। उन्होंने बताया कि गुजरे साल मोतीपुर थाना क्षेत्र में पकड़े गए सात नोट तस्करों से 7.50 लाख नकली भारतीय मुद्रा बरामद की गई थी।

तब उन तस्करों को पूछताछ के बाद जेल भेजने के बाद भी जिला पुलिस इस संदर्भ में हासिल जानकारी के आधार पर नेटवर्क बनाकर काम कर रही थी। इसी बीच उन्हें सूचना मिली की भारतीय सीमा क्षेत्र में बड़े पैमाने पर नकली नोट खपाने की योजना है।

वरीय पुलिस कप्तान ने बताया कि इस मामले में तत्काल पुलिस अनुमंडल पदाधिकारी सरैया राजेश शर्मा के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया था जिसमें नगर, साहेबगंज, सरैया और मोतीपुर थाना अध्यक्ष के अलावे मोतीपुर थाना के पुलिस पदाधिकारियों को शामिल किया गया था।

इस टीम ने मोतीपुर थाना क्षेत्र में महममदपुर बलमी चौक के निकट स्विफ्ट कार के साथ जमा हुए चार संदिग्धों को दबोचा।

उनकी पहचान नीरज सिंह पिता खेदन सिंह चीखरा, कोपा, छपरा, राजू सिंह पिता नागेंद्र सिंह मदरौली अमनौर छपरा, मोहम्मद असलम पिता बाबू जान मियां बखरा सरैया, आलोक भगत पिता शत्रुघ्न भगत फिरोजपुर अमनौर छपरा के रूप में की गई है। इनके पास से छानबीन में पुलिस ने 11.50 लाख नकली नोट बरामद कियि। इस मामले में आगे की कारवाई की जा रही है।

0 comments